Ladli Behna Yojana

Ladli Behna Yojana : मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना

राज्य की मध्यम वर्गीय और गरीब महिलाओं के लिए मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना (Ladli Behna Yojana) शुरू की गई है, जिसमें ऑनलाइन आवेदन करने पर मासिक 1,250 रुपये की आर्थिक सहायता मिलेगी। पहले, यह योजना महिलाओं को मासिक 1,000 रुपये की सहायता प्रदान करती थी, जिसे बाद में 1,250 रुपये में बढ़ा दिया गया। राज्य सरकार का उद्देश्य है कीअब इस राशि को धीरे-धीरे बढ़ाकर 3,000 रुपये करना है।

5 मार्च 2023 को, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जीने महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना शुरू की गई। यह योजना गरीब और मध्यमवर्गीय महिलाओं को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों से आर्थिक सहायता देगी।

मध्य प्रदेश की 21 से 60 वर्ष की प्रत्येक महिलाइस योजना का लाभ उठा सकती है। यदि आप मध्य प्रदेश की महिला हैं और इस योजना का लाभ लेना चाहती हैं, तो आपको जानना चाहिए कि ऑनलाइन आवेदन कैसे करें। आइए जानें कि लाडली बहना कार्यक्रम क्या है और आवेदन कैसे करें।

Ladli Behna Yojana
LADLI BEHNA YOJANA

SARKARI YOJANA LIST

List Of All Government Schemes

मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना

Ladli Behna yojana Overviewलाडली बहना योजना अवलोकन

योजना का नामलाडली बहना योजना
द्वारा शुरू किया गयामुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
क्षेत्रमध्य प्रदेश महिला एवं बाल विकास विभाग
लाभार्थियोंराज्य की महिलाएं
इरादामहिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना और उन्हें आत्मनिर्भर बनाना
सब्सिडी राशि1,250 रुपये प्रति माह, 13,000 रुपये प्रति वर्ष
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन
लाडली बहना आवेदन लिंकयहाँ क्लिक करें
लाडली बहना आधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें
Ladli Behna Yojana

लाडली बहना योजना का उद्देश्य

इस कार्यक्रम से महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं और घरेलू खर्चों को आसानी से नियंत्रित कर सकती हैं। मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना (CM Ladli Behna Yojana) के माध्यम से सरकार द्वारा दी गई धनराशि सीधे महिलाओं के बैंक खाते में जमा की जाती है, जिससे वह आसानी से अपना मासिक व्यय कर सकें। इस योजना को मध्य प्रदेश की सरकार ने महिलाओं की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए शुरू किया था, लेकिन अब यह प्रदेश सरकार की बहुत ही जन लोकप्रिय योजनाओ में से एक मानी जाती है।

Screenshot 2024 06 10 012059
LADLI BEHNA YOJANA

लाडली बहना योजना शुरू करने के कुछ प्रमुख लक्ष्य हैं

मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना का उद्देश्य राज्य के गरीब परिवारों की महिलाओं को पैसे देना है।
योजना का उद्देश्य राज्य की हर महिला को आर्थिक रूप से सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना है।
पात्र लाभार्थी 1,250 रुपये मासिक या 13,000 रुपये सालाना प्राप्त कर सकते हैं।
यह योजना शुरू की गई है ताकि राज्य में गरीब और मध्यम वर्गीय परिवारों की महिलाओं को घरेलू खर्च चला सकें और अपने बच्चों की जरूरतों के लिए दूसरों पर निर्भर न रहना पड़े।
Screenshot 2024 06 10 012003
Ladli Behna Yojana

लाडली बहना योजना {chief minister ladli behna yojana} के अंतर्गत कौन आवेदन कर सकता है?

  • Ladli Behna Yojana में मध्य प्रदेश की 21 से 60 वर्ष की महिलाएं आवेदन कर सकती हैं।
    मध्यप्रदेश की मूल निवासी महिलाओं को CM Ladli Behna Yojana का लाभ मिल रहा है।
    इस योजना का लाभ भी उन महिलाओं को मिल रहा है जिनके परिवार की वार्षिक आय 50 लाख रुपये से कम है।
  • जिनके परिवार में कोई सरकारी कर्मचारी नहीं है, वे भी इस योजना में आवेदन कर सकते हैं।
    इस योजना का लाभ भी महिलाओं को मिल सकता है जिनके परिवार में आयकर नहीं भरता (आय कर दाता नहीं ) है।
  • इस योजना में विधवा और तलाकशुदा महिलाओं को विशेष प्राथमिकता दी गई है।
    इस योजना का मुख्य लक्ष्य सामान्य, पिछड़ी, अनुसूचित जाति और जनजाति की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है।
    योजना का उद्देश्य मध्यप्रदेश की कमजोर तबके की महिलाओं को आर्थिक रूप से समृद्ध बनाना है, ताकि वे अपने परिवार का पालन-पोषण कर सकें और अपनी आवश्यकताओं को पूरा कर सकें।
  • योजना का सर्वाधिक लाभ गरीब, कमजोर वर्ग और मध्यम आय वर्ग की महिलाओं को मिलेगा।
    मध्य प्रदेश की विवाहित महिलाओं को मुख्यमंत्री लाडली बहन योजना का पात्र लाभार्थी माना जाता है।

मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना {cm ladli behna yojana} का फायदा किन महिलाओं को नहीं मिलेगा?

  • मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना का लाभ सिर्फ उन महिलाओं को मिलता है जो एक विद्यालय या कॉलेज में पढ़ी हैं।
  • मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना का लाभ किसी भी सरकारी या निजी संस्थान में काम करने वाली महिलाओं को नहीं मिलेगा।
  • इस योजना से भी मध्य प्रदेश की अविवाहित महिलाओं को लाभ नहीं मिलेगा।
  • इसके अलावा, 1 जनवरी 1963 से पहले और 1 जनवरी 2000 के बाद मध्य प्रदेश में पैदा हुई महिलाओं को लाडली बहना योजना का लाभ नहीं मिलता है।

प्रशासनिक दिशा निर्देश डाउनलोड करें …..

मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना PDF

मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना 2023 की स्वीकृति pdf download

राशी 1000/- के स्थान पर 1250/- प्रस्थापित किये जाने की स्वीकृति पत्र pdf download

मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना नवीन संशोधन आदेश ।

मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना 2023 में नवीन संशोधनों के अनुक्रम में क्रियान्वयन हेतु दिशा निर्देश ।

समग्र – आधार e-KYC की आवश्यकता क्यो ?

e-KYC का मतलब – समग्र आईडी के साथ आधार की जानकारी का मिलान करवाना

Screenshot 2024 06 10 012026
Ladli Behna Yojana
  • e-KYC का उद्देश्य समग्र आईडी के साथ आधार की जानकारी का मिलान करना है।
  • जिससे लाभ योजनाओं को सरलीकृत किया जा सकता है।
  • महिला के मध्य प्रदेश के स्थानीय निवासी होने की पुष्टि करने के लिए।
  • उनका ई-केवाई e-KYC सी आधार समग्र से लिंक होगा, जिससे डुप्लिकेसी खत्म होगी
  • इसलिए, यदि आपकी पूरी e-KYC नहीं है, तो
  • बहनें अपने पास के किसी भी राशन की दुकान, MP Online Center या CSC Kiosk में जाकर अपनी पूरी e-KYC करवा सकती हैं।
    बहनों को इसके लिए कोई पैसा नहीं देना होगा; सरकार प्रत्येक e-KYC के लिए सीधे 15 रुपए दे रही है।

आधार लिंक, डीबीटी सक्रिय व्यक्तिगत बैंक खाता क्यो आवश्यक ?

Screenshot 2024 06 10 012049
Ladli Behna Yojana
  • योजना में आधार भुगतान प्रक्रिया (DBT) का चयन किया गया है क्योंकि इसमें भुगतान असफल होने की दर कम है।
    स्वयं के आधार लिंक और डीबीटी सक्रिय बैंक खाते में भुगतान से धन सीधे बहनों को मिलेगा।
    बहने परिवार की आवश्यकतानुसार धन खर्च कर सकती हैं।
  • जब बहनों को पैसा मिलेगा, तो वे परिवार के निर्णय लेने में महत्वपूर्ण होंगे और वे अपने स्तर से छोटे-छोटे व्यवसाय शुरू कर सकेंगी,
  • जो उन्हे आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनाएगा।

आवेदन प्रक्रिया

लाडली बहना योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

लाडली बहना योजना के लिए आवेदन करने वाले पात्र आवेदकों को आवेदन करते समय कुछ आवश्यक दस्तावेज जमा करने होंगे।

Screenshot 2024 06 10 012026
Ladli Behna Yojana
  • आवेदक महिला का आधार कार्ड
  • परिवार पहचान पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • पते का प्रमाण
  • बैंक पासबुक (आधार नंबर लिंक होना आवश्यक)
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर

आवेदन पत्र भरना निःशुल्क होगा। योजना के लिए आवेदन मोबाइल ऐप या पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन भर सकेंगे। इस हेतु

  • आवेदन फॉर्म ग्राम पंचायत / वार्ड कार्यालय / कैंप स्थल पर उपलब्ध होंगे।
  • कैंप स्थल / ग्राम पंचायत / वार्ड कार्यालय पर आवेदन फॉर्म की लाड़ली बहना पोर्टल/एप में प्रविष्टि की जाएगी।
  • आवेदन फॉर्म की प्रविष्टि के दौरान महिला का फोटो लिया जाएगा।
  • आवेदन फॉर्म की प्रविष्टि के बाद प्राप्त ऑनलाइन आवेदन क्रमांक को पावती में दर्ज करके आवेदक को दिया जाएगे।

आवेदन हेतु निम्‍नानुसार प्रक्रिया निर्धारित की जाती है –

हितग्राही को अपने ऑनलाइन आवेदन की पुष्टि एसएमएस या WhatsApp द्वारा भी मिलेगी। आंगनवाडी कार्यकर्ता इस प्रक्रिया में आपका पूर्ण सहयोग करेंगे।

Screenshot 2024 06 10 012113
Ladli Behna Yojana
अनंतिम सूची का प्रकाशन

आवेदन प्राप्ति की अंतिम तिथि के बाद, आवेदकों की अंतिम सूची पोर्टल या ऐप पर दिखाई देगी और ग्राम पंचायत या वार्ड स्तर के सूचना पटल पर छापी ( चस्पा )जाएगी।

आपत्तियों को प्राप्त किया जाना
  • आपत्ति की सूची पोर्टल या ऐप के माध्यम से 15 दिन तक प्राप्त की जाएगी।
  • पंचायत सचिव या वार्ड प्रभारी को लिखित रूप से या सीएम हेल् पलाईन 181 के माध्यम से आपत्ति दी जा सकती है। पंचायत सचिव या वार्ड प्रभारी आपत्तियों को पोर्टल या ऐप पर दर्ज करेगा।
  • अग्रिम कार्यवाही पंजी में संधारित और ऑनलाइन अपलोड की जाएगी जो ऑफलाइन या लिखित शिकायतें मिली हैं।
आपत्ति निराकरण समिति

प्रदर्शित अंतिम सूची पर मिली शिकायतों का समाधान आपत्ति निराकरण समिति द्वारा किया जाएगा, जिसका आकार निम्नलिखित होगा:

  • (क) जनपद पंचायत, क्षेत्र का नायब तहसीलदार और महिला एवं बाल विकास समिति के परियोजना अधिकारी ग्राम पंचायत क्षेत्र की आपत्तियों का समाधान करेंगे।
  • (ख) महिला एवं बाल विकास की समिति, तहसीलदार, सीएमओ और परियोजना अधिकारी, नगर परिषद और नगर पालिका क्षेत्र की आपत्तियों का समाधान करेगी।
  • (ग) नगर निगम क्षेत्र की आपत्तियों का समाधान करने के लिए जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास की समिति, परियोजना अधिकारी शहरी विकास अभिकरण और आयुक्त नगर निगम जिम्मेदार होंगे।
आपत्तियों की जॉच एवं अंतिम सूची जारी किया जाना

15 दिवस में समिति द्वारा आवेदन पर आपत्ति का निराकरण किया जाएगा। समिति केवल उन्हीं मामले पर विचार करेगी जिनमें आपत्ति हुई है।

  • प्राप्त आवेदनों को राज्य स्तर पर चुना जा सकेगा और उनकी योग्यता की विशिष्ट जांच की जा सकेगी।
  • मुख्य कार्यपालन अधिकारी,
  • जनपद पंचायत/सीएमओ, नगरीय निकाय/आयुक्त,
  • नगर निगम द्वारा आपत्ति निराकरण समिति के स् तर पर पात्र हितग्राहियों की अंतिम सूची मंजूर की जाएगी,
  • जो समस्त आपत्तियों के समय सीमा में परीक्षण के बाद पोर्टल या ऐप पर दिखाई देगी।
  • ग्राम पंचायत या वार्ड स्तर पर भी सूची छापी जाएगी।
  • जो पोर्टल या ऐप पर अपात्र हितग्राहियों की अलग सूची भी दिखाई देगी।
पात्र हितग्राही को स्‍वीकृति पत्र जारी किया जाना

अंतिम सूची में पात्र हितग्राही को ग्राम सचिव/ वार्ड प्रभारी द्वारा योजना में लाभांवित होने सम्‍बंधी ”स्‍वीकृति पत्र” जारी किया जाएगे।

हितग्राही को राशि का भुगतान
  • हितग्राही को उनके आधार लिंक्ड डीबीटी इनेबल्ड बैंक खाते में भुगतान किया जाएगा।
  • महिला आवेदक के पास अपने नाम से डीबीटी इनेबल्ड बैंक खाता होना चाहिए।
  • यदि आवेदिका के पास ऑनलाइन बैंक खाता नहीं है, तो महिला हितग्राही को पावती दी जाएगी।
  • इसके अलावा,आवेदिका से कहा जाएगा कि वे अपना बैंक खाता खुलवाने के लिए डीबीटी इनेबल्ड आधार लिंक का उपयोग करें।
  • इसके लिए जिलों द्वारा नियमित अभियान चलाकर उक्त कार्रवाई समय पर पूरी की जाएगी।
नियमित परीक्षण एवं सत्यापन
  • हितग्राही के संबंध में भविष्य में कोई आपत्ति मिलती है तो आपत्ति निराकरण समिति उसकी जांच करेगी।
  • जॉच में अपात्र होने पर, संबंधित हितग्राही का नाम सूची से विलोपन योग्य होने की सूचना उसे दी जाएगी।
  • जिससे उसे अपना पक्ष रखने का अवसर मिलेगा।
  • आपत्ति सही होने पर, ग्राम पंचायत सचिव या वार्ड प्रभारी सम्बंधित हितग्राही का नाम विलोपित कर सकते हैं।
योजना के अपेक्षित परिणाम

योजना के निम्नलिखित परिणाम मिलेंगे:

  • महिलाओं को आर्थिक सशक्तिकरण मिलेगा,
  • जिससे वे अपने पोषण पर अधिक ध्यान दे पाएंगे और बॉडी मास इन्डेक्स और एनीमिया को कम कर सकें।
  • महिलाओं की आर्थिक मजबूती से उन पर आश्रित बच्चों का स्वास्थ्य और पोषण बेहतर होगा।
  • महिलाओं की श्रम बल में भागीदारी में वृद्धि होगी और परिवार में उनकी निर्णायक भूमिका सुदृढ़ होगी।
  • महिलायें पहले की अपेक्षा आर्थिक रूप से अधिक स्वतंत्र होगीं और अपनी प्राथमिकताओं के अनुसार खर्च करने के लिए संसाधनों को बनाएँगी।
ऑफलाइन माध्यम से लाडली बहना योजना आवेदन प्रक्रिया

यदि आप ऑफलाइन माध्यम से बिना किसी गलती के लाडली बहना योजना में आवेदन करना चाहते हैं, तो नीचे दी गई प्रक्रिया का ध्यानपूर्वक पालन करें।


  • चरण एक : लाडली बहना कार्यक्रम के लिए आवेदन करने के लिए आपको अपने निकटतम ग्राम पंचायत, वार्ड कार्यालय, नगर पालिका या राज्य सरकार द्वारा नामित शिविर में जाना होगा।

  • चरण दो : निर्दिष्ट स्थान पर पहुंचने के बाद, आपको लाडली बहना कार्यक्रम के लिए आवेदन पत्र एकत्र करना होगा।

  • चरण तीन : आवेदन पत्र में पूछे गए सभी विवरणों को सही-सही भरें।

  • चरण चार : आपको अब आवेदन पत्र के साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों को संलग्न करना होगा।

  • चरण पाँच : वर्तमान में, आपको उस निश्चित ग्राम पंचायत, वार्ड कार्यालय या सरकार द्वारा नामित शिविर में आवेदन पत्र और दस्तावेज जमा करना होगा।
  • चरण छः आवेदन पत्र भरते समय ऑनलाइन फोटो ली जाएगी।
  • चरण सात: ऑनलाइन चित्र अपलोड करने के बाद आवेदन पत्र भेजा जाएगा।
  • चरण आठ :आवेदन पत्र जमा करने के बाद आपको एक रसीद मिलेगी, जिसे आप याद रखेंगे।

FAQ’S लोगों ले द्वारा यह सामान्य प्रश्न भी पूछे गए है

  1. मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना 2023 के क्या उद्देश्य हैं?

    उत्तर – (Ladli Behna Yojana)महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन, उनके स्वास्थ्य एवं पोषण स्तर में सतत सुधार एवं परिवार के निर्णयों में उनकी भूमिका सुदृढ़ करना।

  2. योजना अंतर्गत हितग्राहियों की पात्रता क्या निर्धारित की गयी है ?

    उत्तर – योजना में उल्लेखित अपात्रता की श्रेणी में नहीं आने वाली, 01 जनवरी 1961 के पश्चात् परन्तु 01 जनवरी 2000 तक जन्मी मध्यप्रदेश की स्थानीय निवासी समस्त विवाहित महिलाएं (विधवा, तलाकशुदा एवं परित्यक्ता महिला सहित) वर्ष 2023 में आवेदन हेतु पात्र होंगीं।

  3. क्या (Ladli Behna Yojana)योजना अंतर्गत परिवार की आय की कोई भी सीमा है ?

    उत्तर – हाँ, योजना के अंतर्गत ऐसी महिलाऐं अपात्र होंगी, जिनके परिवार की सम्मिलित रूप से वार्षिक आय रुपये 2.5 लाख से अधिक हो।

  4. क्या आयकर दाता होने पर भी {Ladli Behna Yojana} योजना का लाभ मिलेगा ?

    उत्तर – नहीं, यदि आवेदिका के परिवार का कोई भी सदस्‍य आयकरदाता हो, तो योजना अंतर्गत वह अपात्र होगी।

  5. योजना अंतर्गत आयकर दाता से आशय क्या है?

    उत्तर –आयकर दाता से आशय ऐसे व्‍यक्ति से है, जिसके द्वारा विगत वर्ष में आयकर योग्‍य आय होने के कारण आयकर रिटर्न दाखिल किया हो।

  6. क्या अविवाहित आवेदिका योजना के लिए पात्र है ?

    उत्तर – नहीं, योजना केवल विवाहित/तलाकशुदा/विधवा/परित्यक्ता महिलायों के लिए ही है ।

  7. क्या शासकीय सेवा में कार्यरत महिलाओं को भी योजना का लाभ मिलेगा?

    उत्तर –नहीं, यदि आवेदिका के परिवार का कोई भी सदस्य भारत सरकार अथवा राज्‍य सरकार के शासकीय विभाग/उपक्रम/मण्‍डल/स्‍थानीय निकाय में नियमित/स्‍थाईकर्मी/संविदाकर्मी के रूप में नियोजित हो अथवा सेवानिवृत्ति उपरांत पेंशन प्राप्त कर रहा हो, तो वह अपात्र होगी, परंतु मानसेवीकर्मी तथा आउटसोर्सिंग ऐजेंसी के माध्‍यम से नियोजित कर्मचारी अपात्र नहीं होंगी।

  8. क्या आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता/सहायिका/आशा कार्यकर्त्ता अथवा अन्य मानसेवी कर्मी योजना अंतर्गत लाभ प्राप्त कर सकेंगीं ?

    उत्तर –जी हाँ, यदि महिला योजना में उल्लेखित अपात्रता की श्रेणी में नहीं आती है तो वह लाभ प्राप्त करने हेतु पात्र है। किसी महिला के मात्र आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता/सहायिका/आशा कार्यकर्त्ता अथवा अन्य मानसेवी कर्मी होने के कारण वह अपात्र नहीं होगी।

  9. आवेदिका किसी अन्य योजना में भी लाभार्थी है और उस योजना से प्रति माह 1250/-रु से कम प्राप्त कर रहीं हैं , तो क्या आवेदिका इस योजना के लिए पात्र है?

    उत्तर –हाँ, 1250 रूपए में बची हुई शेष राशि का भुगतान आवेदिका को किया जाएगे। (सिर्फ सामाजिक न्याय विभाग की पेंशनकर्ता के लिए) उदाहरण : यदि आवेदिका सामाजिक न्याय विभाग की पेंशनकर्ता है एवं आवेदिका को 600 रुपए की राशि मासिक प्राप्त हो रही है तो ऐसे में 650 रूपए की शेष राशि जोडकर आपको दिए जायेंगे।

  10. यदि आवेदिका के परिवार का कोई सदस्य स्थानीय निकाय में जनप्रतिनिधि है तो क्या योजना का लाभ मिलेगा ?

    उत्तर –नहीं, यदि आवेदिका के परिवार का कोई सदस्य स्थानीय निकाय में निर्वाचित जनप्रतिनिधि है तो योजना का लाभ नहीं मिलेगा, किन्तु परिवार का कोई सदस्य पंच एवं उपसरपंच होने पर आवेदिका अपात्र नहीं होगी।

  11. यदि आवेदिका के परिवार का कोई सदस्य वर्तमान अथवा भूतपूर्व सांसद/विधायक अथवा केंद्र सरकार या राज्य सरकार के किसी बोर्ड/निगम/मंडल/उपक्रम का अध्यक्ष/उपाध्‍यक्ष/ संचालक/सदस्य हो तो क्या आवेदिका योजना का लाभ ले सकती है?

    उत्तर –नहीं, आवेदिका को योजना का लाभ नहीं मिलेगा ।

  12. योजना अंतर्गत लाभ लेने हेतु आवेदिका को किन-किन प्रमाण पत्रों की आवश्यकता होगी ?

    उत्तर –योजना अंतर्गत लाभ लेने हेतु आवेदिका को आवेदन पत्र के साथ किसी भी प्रकार का प्रमाण पत्र संलग्न करने की आवश्यकता नहीं है। आवेदिका द्वारा “आवेदन हेतु आवश्यक जानकारी के पत्रक” में की गयी स्व-घोषणा ही पर्याप्त है।

  13. आवेदिका को योजना अंतर्गत लाभ लेने हेतु “आवेदन हेतु आवश्यक जानकारी का पत्रक” कहॉ से प्राप्‍त होगा ?

    उत्तर –पत्रक ग्राम पंचायत कार्यालय, वार्ड कार्यालय, योजना अंतर्गत आयोजित शिविर में अथवा आंगनवाडी केन्‍द्र से नि:शुल्‍क प्राप्‍त किया जा सकता है।

  14. आवेदिका को अपने “आवेदन हेतु आवश्यक जानकारी के पत्रक” की ऑनलाइन प्रविष्टि कहॉ करानी होगी ?

    उत्तर –आवेदिका को अपने “आवेदन हेतु आवश्यक जानकारी के पत्रक” की ऑनलाइन प्रविष्टि ग्राम/ वार्ड में आयोजित होने वाले कैम्‍प में करानी होगी।

  15. योजना अंतर्गत लाभ लेने हेतु आवेदिका को किन-किन दस्तावेज/जानकारियों की आवश्यकता है?

    उत्तर –आवेदिका के पास परिवार समग्र आई डी, व्यक्तिगत समग्र आई डी , आधार कार्ड , स्वयं का आधार लिंक्ड डी बी टी इनेबल्ड बैंक खाता एवं मोबाइल नंबर (जिस पर आवेदन की ऑनलाइन प्रविष्टि के समय ओ टी पी भेजा जाएगे) होना आवश्यक है।

  16. योजना अंतर्गत परिवार से आशय क्या है ?

    उत्तर –परिवार से तात्पर्य पति, पत्नी एवं उन पर आश्रित बच्चों से है जो कि “परिवार समग्र आई.डी.” में सम्मिलित हैं।

  17. क्या एक ही परिवार में एक से अधिक पात्र महिला भी आवेदन कर सकती है?

    उत्तर –हाँ ,परिवार का अर्थ है पति, पत्नी और उन पर आश्रित बच्चे न की संयुक्त परिवार।

  18. आधार लिंक्ड डी बी टी इनेबल्ड बैंक खाते से आशय क्या है?

    उत्तर –आधार लिंक्ड डी बी टी इनेबल्ड बैंक खाते से आशय बैंक खाते का आवेदिका के आधार से लिंक होना तथा आधार नंबर के माध्यम से ही राशि का बैंक खाते में अंतरण से है ।

  19. आवेदिका अपने बैंक खाते को आधार लिंक डी बी टी इनेबल्ड कैसे कर सकती है?

    उत्तर –आवेदिका द्वारा अपने बैंक की शाखा में अथवा उक्त बैंक के अधिकृत कियोस्क में जाकर बैंक खाते को आधार लिंक एवं डी बी टी इनेबल्ड करने का सहमति-पत्र भरने के उपरांत बैंक की शाखा अथवा उक्त बैंक के अधिकृत कियोस्कद्वारा आवेदिका की बैंकिंग ई-केवाईसी सत्यापन उपरांत उनके खाते को आधार लिंक डी बी टी इनेबल्ड कर दिया जाता है।

  20. यदि आवेदिका और उनके पति अथवा परिवार के किसी अन्य सदस्य के साथ संयुक्त खाता है तो क्या मैं योजना अंतर्गत पात्र होने पर उक्त खाते में राशि प्राप्त कर सकती हूँ ?

    उत्तर – जी नहीं । योजना अंतर्गत पात्र पाए जाने पर आवेदिका को योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु स्वयं का बैंक खाता खुलवाया जाना तथा उक्त खाते को अपने आधार से लिंक कराना एवं डी बी टी इनेबल्ड कराना अनिवार्य है ।

  21. समग्र पोर्टल में ई-के वाई सी से आशय क्या है?

    उत्तर –उक्त ई-के वाई सी से आशय किसी व्यक्ति की समग्र पोर्टल (samagra.gov.in) में स्वयं की समग्र आई डी एवं उसकी आधार में दर्ज जानकारी यथा नाम, अभिभावक का नाम,जन्मतिथि, लिंग का मिलान करने से है । उक्त दोनों आई डी में जानकारी एक समान होने पर समग्र पोर्टल में ई-के वाई सी तत्काल सत्यापित हो जाती है।

  22. समग्र पोर्टल में ई-के वाई सी कहाँ कराई जा सकती है?

    उत्तर –नजदीकी लोक सेवा केंद्र, एम पी ऑनलाइन कियोस्क या कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर अपना आधार ई-के वाई सी दो तरीके से निःशुल्क करा सकते हैं
    आधार लिंक मोबाईल पर ओटीपी के माध्‍यम से (इसके लिये आधार से मोबाइल नम्‍बर पूर्व से लिंक होना अनिवार्य है)
    बायोमेट्रिक डिवाइस के माध्‍यम से सत्‍यापन के द्वारा

  23. क्या आवेदिका स्वयं समग्र पोर्टल में ई-के वाई सी कर सकती है?

    उत्तर –समग्र पोर्टल पर आवेदिका स्‍वयं के द्वारा भी नि:शुल्‍क ई-केवायसी कर अपने समग्र आईडी को आधार से लिंक किया जा सकता है।

  24. आवेदिका स्वयं समग्र पोर्टल में ई-के वाई सी कैसे कर सकती है ?

    उत्तर – आवेदिका स्वयं समग्र पोर्टल (samagra.gov.in) में अपनी समग्र आईडी प्रविष्‍ट कर आधार नम्‍बर दर्ज करें
    तथा आधार से प्राप्‍त ओटीपी की प्रविष्‍टी कर अपने आधार को सत्‍यापित करें।
    अपना मोबाईल नम्‍बर दर्ज कर ओटीपी से सत्‍यापित करें।
    आधार में दर्ज आवेदिका का नाम, जन्‍मतिथि और लिंग का समग्र डाटा से मिलान होने पर आवेदिका का आधार ई केवायसी सफलतापूर्वक हो जाएगे।
    मिलान न होने की स्थिति में आधार ई-केवायसी का अनुरोध स्‍थानीय निकाय को अनुमोदन हेतु प्रेषित हो जाएगे।

  25. यदि आवेदिका की समग्र आई डी एवं आधार में पृथक-पृथक जानकारियां दर्ज हैं तो आवेदिका समग्र पोर्टल में अपनी ई-के वाई सी कैसे सत्यापित कर सकती है ?

    उत्तर –यदि आवेदिका समग्र आई डी एवं आधार में पृथक-पृथक जानकारियां दर्ज हैं तो समग्र पोर्टल में आधार में दर्ज जानकारी को समग्र में ‘ओवर राईट’ करने का प्रावधान है जिसके लिए आवेदिका को पोर्टल पर ऑनलाइन सहमति के ऑनलाइन अनुरोध पर स्थानीय निकाय के अनुमोदन उपरांत दोनों आई डी में (समग्र एवं आधार) एक समान हो जातीं हैं और ई-के वाई सी पूर्ण हो जाती है।

  26. क्या योजना अंतर्गत फॉर्म भरने अथवा समग्र ई-केवाईसी पूर्ण कराने हेतु आवेदिका को कोई शुल्क देना होगा ?

    उत्तर –जी नहीं । उक्त दोनों सेवाएँ निःशुल्क हैं।

  27. क्या यदि आवेदिका के परिवार का कोई सदस्य योजना अंतर्गत अपात्रता रखने वाली श्रेणी में आता है परन्तु वह आवेदिका के परिवार समग्र आई डी में सम्मिलित नहीं है तो क्या आवेदिका उस व्यक्ति के कारण योजना अतर्गत अपात्र मानी जाउंगी ?

    उत्तर –जी नहीं । यदि आवेदिका स्वयं या परिवार समग्र आई डी में सम्मिलित सदस्य योजना अंतर्गत अपात्रता की श्रेणी में नहीं आते हैं तथा आवेदिका पात्रता की शर्तें पूर्ण करती हैं, तो आवेदिका योजना अंतर्गत लाभ लेने हेतु पात्र होंगीं ।

  28. क्या सदस्य की समग्र में ई-केवाईसी होना अनिवार्य है।

    उत्तर –हाँ, बिना ई-केवाईसी के आवेदन की प्रक्रिया आगे नहीं हो पायेगी।

  29. क्या सदस्य समग्र एवं परिवार समग्र आई. डी. नहीं होने पर आवेदन किया जा सकता है?

    उत्तर –नहीं, आवेदन करने के लिए पहले आवेदिका को सदस्य समग्र एवं परिवार समग्र आई. डी. के लिए समग्र पोर्टल पर आवेदन करना होगा सदस्य समग्र एवं परिवार समग्र आई. डी. बन जाने के बाद ही आवेदिका लाड़ली बहना योजना के लिए आवेदन कर सकते है।

  30. क्या आवेदिका अपनी समग्र ई-केवाईसी स्थिति की जांच कर सकती है ?

    उत्तर –हाँ, समग्र पोर्टल पर जाकर आवेदिका समग्र ई-केवाईसी की स्थिति देख सकती है ।

  31. समग्र में वैवाहिक स्थिति गलत दिखाई दे रही है तो इसके लिए क्या करना होगा?

    उत्तर –ग्राम पंचायत / वार्ड कार्यालय पर जाकर वैवाहिक स्थिति को बदलने के लिए आवेदन करे ।

  32. यदि आधार में जेंडर या जन्मतिथि गलत दिखाई दे रहा है तो इसके लिए क्या करना होगा?

    उत्तर –आधार केंद्र पर जाकर आधार अपडेट करने के लिए आवेदन करे ।

  33. समग्र में ई-के.वाये.सी हो गया है पर आधार बैंक से जुड़ा/लिंक नहीं है तो इसके लिए क्या करना होगा?

    उत्तर –सम्बंधित बैंक शाखा पर जाकर आधार नंबर के साथ आवेदन जमा करे एवं डी.बी.टी. को भी सक्रीय करवाने का अनुरोध करे ।

  34. आधार बैंक में लिंक है पर डी.बी.टी. सक्रिय नहीं है तो इसके लिए क्या करना होगा?

    उत्तर –सम्बंधित बैंक शाखा पर जाकर आधार लिंकिंग बैंक खाते में डी.बी.टी. को भी सक्रीय करवाने का अनुरोध करे ।

  35. आवेदन की स्थिति कैसे देख सकते है ?

    उत्तर –आवेदन की स्थिति देखने के लिए वेब पोर्टल (cmladlibahna.mp.gov.in) पर जाकर आवेदन की स्थिति पर क्लिक करना होगा, एवं अपना आवेदन नंबर / सदस्य समग्र आई. डी. भरकर एवं समग्र रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी वेरीफाई कर देखा जा सकता है।

  36. आवेदन की अंतिम तारीख क्या है ?

    उत्तर –30 अप्रैल

  37. किसी आपात्र आवेदिका के लिए आप्पति कैसे की जा सकती है?

    उत्तर –पंजीयन की प्रक्रिया समाप्त हो जाने पर दिनांक 1 मई को पोर्टल पर अनंतिम सूची प्रकाशित कर दी जाएगी, सूची में आवेदिका को सर्च करना होग, सर्च करने के पश्चात् आवेदिका की जानकारी देख सकते है एवं आप्पति 1 मई से 15 मई तक दर्ज कर सकते है।

  38. आप्पति का निराकरण कब तक कर दिया जाएगे?

    उत्तर –16 मई से 30 मई तक

  39. पात्र महिलाओ के खाते में राशि कब तक ट्रान्सफर कर दी जाएगी?

    उत्तर –10 जून तक एवं अगले महीने से हर 10 तारिख को राशि ट्रान्सफर कर दी जाएगी।

  40. प्राप्त राशि की स्थिति कैसे देख सकते है ?

    उत्तर –प्राप्त राशि की स्थिति देखने के लिए पोर्टल पर जाकर आवेदन की स्थिति पर क्लिक करना होगा, एवं अपना आवेदन नंबर / सदस्य समग्र आई. डी. भरकर एवं समग्र रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी वेरीफाई कर देखा जा सकता है ।

5/5 - (1 vote)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top