Deen Dayal Jan Awas Yojana 2024

हरियाणा (Deen Dayal Jan Awas Yojana) दीन दयाल जन आवास योजना भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 2016 में हरियाणा राज्य में स्थित गरीब और आर्थिक रूप से कम आय वाले बेघर परिवारों को अपना घर उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत राज्य में स्थित हर गरीब और आर्थिक रूप से प्रभावित बेघर परिवार को नया घर मिलेगा। 5 चरणों में जाने Deen Dayal Jan Awas Yojana का लाभ कैसे ले।

Deen Dayal Jan Awas Yojana
DEEN DAYAL JAN AWAS YOJANA

Table of Contents

‘दीनदयाल जन आवास योजना’ में संशोधन और ‘हरियाणा लैंड पूलिंग पॉलिसी’ 2022 OFFICIAL TWITE

दीन दयाल जन आवास योजना के तहत राज्य सरकार 5 एकड़ से 15 एकड़ जमीन पर कॉलोनी बनाएगी. कॉलोनी में गरीब परिवारों को बेहद कम कीमत पर मकान बेचे जाएंगे। प्रत्येक विशेष कॉलोनी में आवासीय भूखंड का क्षेत्रफल 150 वर्ग मीटर है और भूखंड क्षेत्र का अनुपात 2 है।

इस योजना के तहत हर परिवार को अलग पार्किंग की जगह मिलेगी. तो अगर आप हरियाणा राज्य के निवासी हैं और आपके पास घर नहीं है तो आप आसानी से दीनदयाल जन आवास योजना से जुड़ सकते हैं।

इसलिए यदि आप इस योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं और योजना के बारे में विवरण जानना चाहते हैं तो आपको इस पोस्ट को अंत तक अच्छी तरह से पढ़ना होगा।

Untitled design 1 1
इस योजना के तहत राज्य में स्थित हर गरीब और आर्थिक रूप से प्रभावित बेघर परिवार को नया घर मिलेगा।

हरियाणा दीनदयाल जन आवास योजना के बारे में पूरी जानकारी

योजना का नामDeen Dayal Jan Awas Yojana
आरंभ वर्षसन् 2016
आरंभ की गईहरियाणा सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के नागरिक
उद्देश्यगरीब नागरिकों को किफायती दरों पर आवास प्रदान करना।
साल2024
आवेदन प्रक्रियाOnline
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://tcpharyana.gov.in/
Deen Dayal Jan Awas Yojana

दीन दयाल जन आवास योजना हरियाणा सरकार द्वारा अधिसूचना 30 सितम्बर 2016 पीडीऍफ़

हरियाणा शहरी क्षेत्रों का विकास और विनियमन नियम 1976.pdf

Untitled design 2
आर्थिक रुप से गरीब और निम्न आय वर्ग वाले बेघर परिवारों को उनका खुद का घर

Haryana Development and Regulation of Urban Areas Rules1976.pdf

Objective of Deen Dayal Jan Awas Yojana:दीन दयाल जन आवास योजना का उद्देश्य

हरियाणा राज्य की अन्य योजनाओं की तरह, दीनदयाल जन आवास योजना के भी कुछ उद्देश्य हैं, जो हैं।

  • दीनदयाल जन आवास योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में स्थित आर्थिक रूप से गरीब और बेघर परिवारों को अपना खुद का घर उपलब्ध कराना है।
  • राज्य में विभिन्न प्रकार के परिवार हैं जिन्हें आर्थिक तंगी के कारण किराए के मकानों या कच्चे मकानों में रहना पड़ता है, इसलिए उन्हें पक्का मकान उपलब्ध कराने के लिए यह योजना शुरू की गई है।
  • यह योजना इसलिए शुरू की गई है ताकि राज्य में स्थित गरीब परिवारों को रहने के लिए पक्के मकान बनाने की समस्या का सामना न करना पड़े।
  • इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के अंदर स्थित गरीब और बेघर परिवारों को कम कीमत पर अच्छे पक्के मकान उपलब्ध कराना है।

जन आवास योजना पात्रता:deen dayal awas yojna eligibility

यदि आप हरियाणा राज्य के निवासी हैं और दीनदयाल जन आवास योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपके पास कुछ योग्यताएं होनी चाहिए। आवश्यक योग्यताएं रखें.

  • आवेदक को हरियाणा राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक के परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी में नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक करदाता नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक के परिवार के पास कच्चा मकान होना चाहिए अथवा बेघर व्यक्ति किराये के मकान में रह रहा हो।
  • इस योजना के लिए केवल वही आवेदक आवेदन कर सकते हैं जिनके पास अपना घर नहीं है।

दीन दयाल जन आवास योजना के आवश्यक दस्तावेज

जब आप दीनदयाल जन आवास योजना के लिए आवेदन करने जाएंगे तो उस समय आपको कुछ दस्तावेज अपलोड करने होंगे। दस्तावेज़ हैं,

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • वास्तविक प्रमाण पत्र
  • राशन पत्रिका
  • पते का प्रमाण
  • आय प्रमाण पत्र
  • उम्र का सबूत
  • बैंक लेनदेन विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • दीनदयाल जन आवास योजना 2024
  • हरियाणा सरकार द्वारा सन् 2016 में दीनदयाल जन आवास योजना को शुरू किया गया था।
  • इस योजना के तहत राज्य के गरीब परिवारों को किफायती आवास उपलब्ध करवाए जाते हैं।
  • राज्य सरकार बिल्डरों के साथ मिलकर कॉलोनियों का निर्माण करती है। फिर इन कॉलोनियों में बनाए जाने वाले घरों को गरीब परिवारों को बहुत ही सस्ती दरों पर बेचती है।
  • इस योजना के तहत 5 से 15 एकड़ जमीन पर कॉलोनियों का निर्माण करवाया जाता है जिन पर आवास प्लॉट का क्षेत्रफल 150 स्क्वायर मीटर और प्लॉट एरिया रेश्यो 2 होता है।
  • बिल्डर द्वारा कॉलोनियों का निर्माण करने के बाद लाइसेंस प्राप्त एरिया का 10% एरिया सरकार को फ्री में देना होता है जिस पर सरकार नागरिकों के लिए कुछ मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाती है।
  • इस योजना के तहत पहले बिक्री योग्य एरिया का 50% एरिया सरकार के पास रखना का प्रावधान था। लेकिन अब सन् 2022 में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने इस प्रावधान को हटा दिया है।
  • Haryana Deen Dayal Jan Awas Yojana 2024 आने वाले समय में राज्य के सभी गरीब परिवारों को उनका खुद का घर उपलब्ध करवाने में अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।


दीनदयाल जन आवास योजना 2024 के तहत आवेदन हेतु पात्रता :Jan Awas Yojana Eligibility

  • आवेदक को हरियाणा का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक हरियाणा राज्य का बोनाफाइड होना चाहिए।
  • आवेदक करदाता नहीं होना चाहिए।
  • जिन नागरिकों के पास खुद का घर नहीं है वहीं इस योजना के तहत आवेदन करने के पात्र हैं।
  • आवेदक परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी पर नहीं होना चाहिए।

हरियाणा दीनदयाल जन आवास योजना के लाभ और विशेषताएं

  • किराए पर रह रहे परिवारों को सुव्यवस्थित कॉलोनी में घर बनाने का अवसर मिलेगा। इसके लिए दो कॉलोनियों को (Deen Dayal Jan Awas Yojana )दीन दयाल जन आवास योजना के तहत लाइसेंस दिए गए हैं। दोनों कॉलोनियां जगाधरी में मिल जाएंगी। वहीं चार आवेदकों को लाइसेंस मिल रहे हैं।
  • ये लाइसेंस भी जल्द ही जारी होने की उम्मीद है। लाइसेंस जारी होने से जगाधरी में तीन कॉलोनियां और रादौर रोड पर एक कॉलोनी मिल जाएगी। शहरों में 100 एकड़ जमीन पर कॉलोनी बनाने का लाइसेंस अभी भी मिलता है, लेकिन इस योजना में छोटे प्लाटों को 5 से 15 एकड़ जमीन पर लाइसेंस मिलेगा।
  • इन कॉलोनियों के टूटने से मध्य और निम्न वर्गीय परिवारों को सबसे अधिक लाभ होगा। क्योंकि कॉलोनियों में मकान 50-150 वर्ग गज के होंगे। जो बिल्डर को मार्केट से कम दर पर बेचने होंगे। बिल्डर को आवेदन के छह महीने के भीतर प्लॉट उपलब्ध कराना होगा। लाइसेंस पाने वाले बिल्डरों का कहना है कि वे इसी साल अलॉटमेंट शुरू करने के लिए प्रयास करेंगे।
  • इन कॉलोनियों में 61% रिहायशी और 4% कॉमर्शियल प्लॉट में वैध कॉलोनियों की समान सुविधाएं मिलेंगी। आवेदन के छह महीने के भीतर घर देना होगा। कॉलोनियों में जमीन के 61% रिहायशी और 4% वाणिज्यिक प्लॉट होंगे। निर्माण के लिए फ्लोर एरिया रेशो (FAR) 200 प्रतिशत होगा।
  • कॉलोनी में भी नौ मीटर चौड़ी सड़कें होंगी। इसमें आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए विशेष प्रावधान की आवश्यकता नहीं होगी। कम क्षमता वाले क्षेत्रों के लिए 10 हजार रुपये प्रति एकड़ का लाइसेंस शुल्क निर्धारित किया गया है। वहीं मध्यम क्षमता वाले क्षेत्रों के लिए यह दर प्रति एकड़ एक लाख रुपए है।
  • अवैध कॉलोनियों पर नियंत्रण होगा: विभागीय अधिकारियों का कहना है कि इस दीनदयाल जन आवास योजना से अवैध कॉलोनियों को नियंत्रित किया जाएगा। यमुनानगर-जगाधरी नगर निगम क्षेत्र में वर्तमान में 217 अवैध कॉलोनियां हैं। इन कॉलोनियों में लोगों को मकान बनाना पड़ता है क्योंकि वे कम लागत वाले और छोटे प्लाट हैं। लेकिन सुविधाओं के अभाव में लोगों को जीना पड़ता है।
  • दीनदयाल जन आवास योजना (Deen Dayal Jan Awas Yojana) से यमुनानगर-जगाधरी में दूसरे राज्यों से आए दो से ढाई लाख लोगों ने सबसे अधिक लाभ उठाया है। ये लोग अब यहीं रहते हैं, लेकिन शहर में संपत्ति की कीमतें बढ़ने के कारण घर नहीं बना पाए हैं।
  • शहर में किराए पर डेढ़ से दो लाख लोग रहते हैं। इन लोगों को भी सस्ता प्लॉट मिल जाएगा। 13 वर्षों में शहर में कोई भी नया हुडा क्षेत्र नहीं कट पाया है। विभाग ने सेक्टर-23 और 24 को काटने की योजना बनाई थी, लेकिन छह साल से यह काम नहीं हुआ है। क्योंकि 2014 से संपत्ति में गिरावट आई है फिलहाल शहर में सेक्टर-17, 15 और 18 हैं। 2005 में सेक्टर 18 का भाग 2 बनाया गया था।

धनवापसी एवं रद्दीकरण नीति Refunds & Cancellation Policy (Deen Dayal Jan Awas Yojana )

धनवापसी एवं रद्दीकरण नीति

  • सभी असफल आवेदन आवंटन तिथि के 60 दिनों के भीतर वापस कर दिए जाएंगे
  • रिफंड उसी खाते पर संसाधित किया जाएगा जो उपयोगकर्ता ने हमें प्रदान किया है।
  • यदि आवंटन की पुष्टि नहीं हुई है तो 100% रिफंड नीति है और कोई शुल्क नहीं है।
  • आवंटी द्वारा आवंटन रद्द करने पर पंजीकरण राशि का 0-25% रद्दीकरण शुल्क लगेगा।
  • आवंटी द्वारा उचित परिश्रम के बाद 120 दिनों के भीतर रद्दीकरण रिफंड की प्रक्रिया की जाएगी।
  • कृपया रद्दीकरण और अधिक जानकारी के लिए support@deendayalplots.co.in पर संपर्क करें।

गुरुग्राम रियल एस्टेट नियामक ने भ्रामक विज्ञापन प्रकाशित करने के लिए डेवलपर को दंडित किया।

प्राधिकरण ने कहा कि नीति को दीन दयाल आवास योजना (डीडीजेएवाई) 2016 के रूप में जाना जाता है, जबकि अखबार में प्रकाशित विज्ञापन में इसे डीडीजेएवाई 2024 के रूप में शीर्षक दिया गया है, जो “गलत और भ्रामक” है।

गुरुग्राम रेरा ने भ्रामक विज्ञापन प्रकाशित करने पर डेवलपर पर 25 लाख रुपये का जुर्माना लगाया

रियल एस्टेट विनियामक प्राधिकरण (रेरा), गुरुग्राम ने राज्य सरकार की योजना (Deen Dayal Jan Awas Yojana ) – दीन दयाल जन आवास योजना (डीडीजेएवाई) 2016 के तहत एक रियल एस्टेट परियोजना का “भ्रामक विज्ञापन” एक मुख्यधारा के दैनिक में प्रकाशित करने के लिए यशवी होम्स प्राइवेट लिमिटेड पर 25 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है, प्राधिकरण ने बताया।

गुरुग्राम रेरा ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए विज्ञापन को “पूरी तरह से भ्रामक” करार दिया। यशवी होम्स डीडीजेएवाई योजना के तहत गुरुग्राम के फरुखनगर सेक्टर 3 में आवासीय परियोजना गोल्डन गेट रेजीडेंसी विकसित कर रही है।

यह भी पढ़ें: हरियाणा रेरा ने समय पर परियोजनाएं पूरी न करने पर 5 बिल्डरों पर 25-25 लाख रुपये का जुर्माना लगाया

प्राधिकरण ने कहा कि नीति को दीन दयाल आवास योजना (डीडीजेएवाई) 2016 के रूप में जाना जाता है, जबकि अखबार में प्रकाशित विज्ञापन में इसे डीडीजेएवाई 2024 के रूप में शीर्षक दिया गया है, जो “गलत और भ्रामक” है।

प्राधिकरण ने एक बयान में कहा कि प्रमोटर ने परियोजना की पंजीकरण संख्या और प्राधिकरण की वेबसाइट का पता स्पष्ट रूप से नहीं बताया है, जबकि नियमों के तहत यह आवश्यक है।

रेरा अधिनियम 2016 की धारा 11(2) के प्रावधानों के अनुसार प्रमोटर द्वारा जारी या प्रकाशित विज्ञापन या प्रॉस्पेक्टस में प्राधिकरण की वेबसाइट का पता प्रमुखता से अंकित किया जाएगा, जिसमें पंजीकृत परियोजना का समस्त विवरण सही-सही दर्ज किया जाना चाहिए तथा इसमें रेरा पंजीकरण संख्या भी शामिल होनी चाहिए।

प्राधिकरण के प्रवक्ता ने कहा, “पंजीकरण के समय प्रमोटर द्वारा प्रस्तुत स्वीकृत लेआउट योजना में स्कूल, क्लब हाउस, स्विमिंग पूल, बैडमिंटन कोर्ट, हाफ बास्केटबॉल कोर्ट जैसी सुविधाओं का कोई प्रावधान नहीं है, जबकि विज्ञापन में इसका उल्लेख किया गया है।” उन्होंने कहा कि विज्ञापन में जिन सुविधाओं का वादा किया गया है, वे परियोजना की स्वीकृत लेआउट योजना के अनुसार नहीं हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि प्राधिकरण ने रियल एस्टेट प्रमोटरों को “भ्रामक विज्ञापनों” से बचने की चेतावनी दी है अन्यथा कार्रवाई का सामना करने के लिए तैयार रहें।

दीन दयाल जन आवास योजना ऑनलाइन पंजीकरण: Deen Dayal Jan Awas Yojana

यदि आप दीनदयाल जन आवास योजना के लिए सही तरीके से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं तो निम्नलिखित प्रक्रियाओं का अच्छी तरह से पालन करें:

स्टेप 1: सबसे पहले आपको इस लिंक https://tcpharyana.gov.in/ को दर्ज करके आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचना होगा।

चरण दो: आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर जाने के बाद अब आपको दीनदयाल जनवास योजना के लिए आवेदन पत्र डाउनलोड कर उसका प्रिंट आउट लेना होगा।

चरण 3: अब आपको आवेदन पत्र में सारी जानकारी अच्छी तरह भरनी है और उसके साथ जरूरी दस्तावेज भी संलग्न करने हैं।

चरण 4: आपको आवेदन पत्र और दस्तावेज निर्दिष्ट विभाग यानी जिला पंचायत, नगर निगम भवन आदि में जमा करना होगा।

चरण 5: आवेदन पत्र जमा करने के बाद आपको एक रसीद प्राप्त होगी, जिसे भविष्य के संदर्भ के लिए संभालकर रखना होगा।

CONCLUSION– दीन दयाल जन आवास योजना के बारे में यह लेख विस्तृत जानकारी प्रदान करता है, जो हरियाणा राज्य के गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए आवास की समस्या को हल करने के लिए शुरू की गई थी। इस योजना के तहत, राज्य सरकार गरीब परिवारों को सस्ते दाम पर आवास प्रदान करने के लिए कॉलोनियों का निर्माण करेगी। यह योजना राज्य के गरीबों को स्वयं अपने घर का मालिक बनाने का माध्यम प्रदान करेगी।

लोगों ने यह भी पूछा है ? 10 प्रमुख प्रश्न (FAQs) और उत्तर:

दीनदयाल जन आवास योजना क्या है?

दीनदयाल जन आवास योजना एक सरकारी योजना है जो हरियाणा राज्य में गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को सस्ते दाम पर आवास प्रदान करती है।

योजना की पात्रता क्या है?

योजना की पात्रता में शामिल होने के लिए आवेदक को हरियाणा के स्थाई निवासी होना आवश्यक है।

आवास योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कैसे किया जा सकता है?

आवास योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन प्रक्रिया में कौन-कौन से दस्तावेज़ आवश्यक हैं?

आवेदन प्रक्रिया में आवश्यक दस्तावेज़ में आधार कार्ड, वास्तविक प्रमाण पत्र, राशन पत्रिका, आय प्रमाण पत्र, आदि शामिल हो सकते हैं।

योजना के तहत निर्मित आवास की क्या विशेषताएं हैं?

योजना के अंतर्गत निर्मित आवास में हर परिवार को अलग पार्किंग की जगह उपलब्ध होती है।

आवास योजना के लाभार्थियों को कितना समय तक अपने आवास में रहने की अनुमति होती है?

योजना के तहत आवास योजना के लाभार्थियों को समय सीमा के तहत उनके आवास में रहने की अनुमति होती है।

योजना के तहत आवास की कीमत कैसे निर्धारित की जाती है?

योजना के तहत आवास की कीमत सरकार द्वारा निर्धारित की जाती है और यह बहुत ही कम दाम पर प्रदान की जाती है।

क्या यह योजना केवल हरियाणा राज्य के निवासियों के लिए है?

हां, यह योजना केवल हरियाणा राज्य के निवासियों के लिए है।

योजना के तहत आवास का निर्माण किस प्रकार किया जाता है?

योजना के तहत आवास का निर्माण सरकार द्वारा अधिकृत बिल्डर्स के द्वारा किया जाता है।

योजना के अनुसार आवास चयन में क्या मापदंड होते हैं?

योजना के अनुसार, आवास चयन में प्राथमिकता गरीबी और आर्थिक स्थिति के आधार पर दी जाती है।

विशेष नोट: वर्तमान में, हरियाणा राज्य में दीनदयाल जन आवास योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया बंद है। आवेदन प्रक्रिया शुरू होने पर हम इस पोस्ट में फिर से अपडेट करेंगे। अगर आप खुद को अपडेट रखना चाहते हैं तो आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर लगातार नजर रखनी होगी।
Rate this post

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 thought on “Deen Dayal Jan Awas Yojana 2024”

Scroll to Top